Study Materials

NCERT Solutions for Class 8th Science

 

Page 5 of 5

Chapter 7. पौधें एवं जंतुओं का संरक्षण

अतिरिक्त प्रश्नोत्तर

 

 

 

प्रश्न - वनोन्मुलन के क्या कारण है ?
उत्तर - वनोन्मुलन के निम्न कारण है।
(i) कृषि के लिए भुमी के लिए।
(ii) घरों एवं कारखानों का निर्माण के लिए। 
(iii) लकडी का ईंधन और फर्नीचर के लिए उपयोग। 
(iv) भीषण सुखा । 

प्रश्न - वनोन्मुलन के क्या परिणाम हो सकता है ?
उत्तर - वनोन्मुलन के निम्नलिखित परिणाम हो सकता है।
(i) इससे पृथ्वी पर ताप और प्रदूषण के स्तर में वृद्धि होती हैं ।
(ii) इससे वायुमंडल में कार्बनडाइआॅक्साइड जैसे ग्रीन हाउस गैस का स्तर बढता है। 
(iii) भौम जल का स्तर कम हो जाता है। 
(iv) वनोन्मुलन से प्राकृतिक संतुलन प्रभावित होता है। 

प्रश्न - संरक्षित वन भी वन्य जंतुओं के लिए भी पूर्ण रूप से सूरक्षित नहीं है , क्यों ?
उत्तर - संरक्षित वन भी वन्य जंतुओं के लिए भी पूर्ण रूप से सूरक्षित नहीं है क्योंकि इनके आस पास के क्षेत्रों में रहने वाले लोग वनोें का अतिक्रमण कर उन्हें नष्ट कर देते है। 

प्रश्न - हमें जैव विविधता का संरक्षण क्यों करना चाहिए। 
उत्तर - जैव विविध्ता जीवों या स्पीशीज की जीवन की उतरजीविता को बनाए रखने में सहायक है । जैव विविधता से ही जीव विषम जलवायु में अपने विभिन्न किस्मों (स्पीशीजद) को बचा पाते है। अतः हमें जैव विविधता का संरक्षण करना चाहिए। जैव विविधता के संरक्षण के उद्देश्य से ही जैवमण्डल आरक्षित क्षेत्र बनाए गए हैं।

प्रश्न: निम्नलिखित को परिभाषित कीजिए ?

(i) जैवमंडल आरक्षित क्षेत्र

(ii) स्पीशीज

(iii) अभ्यारण्य 

(iv) राष्ट्रिय उद्यान 

उत्तर: 

जैवमण्डल आरक्षित क्षेत्र: वन्य जीवन, पौधें और जंतु संसाधनों और उस क्षेत्र के आदिवासियों के पारंपरिक ढंग से जीवनयापन हेतु विशाल संरक्षित क्षेत्र। 

स्पशीज: सजीवों की समष्टि का वह समूह है जो एक दूसरे से अंतर्जनन करने में सक्षम होते हैं।

अभ्यारण्य: वह क्षेत्रा जहाँ जंतु एवं उनवेफ आवास किसी भी प्रकार वेफ विक्षोभ से सुरक्षित रहते हैं।

राष्ट्रीय उद्यान: वन्य जंतुओं वेफ लिए आरक्षित क्षेत्रा जहाँ वह स्वतंत्रा ;निर्बाध्द्ध रूप से आवास एवं प्राकृतिक संसाध्नों का उपयोग कर सकते हैं।

 

Page 5 of 5

 

Chapter Contents: