Study Materials

NCERT Solutions for Class 8th History

 

Page 2 of 4

Chapter 10. दृश्य कलाओं की बदलती दुनियाँ

अभ्यास-प्रश्नोत्तर

 

 

 

10. दृश्य कलाओं की बदलती दुनियाँ 


Q1. रिक्त स्थान भरेंः
(क) जिस कला शैली में चीजों को गौर से देखकर उनकी यथावत तसवीर बनाई जाती है उसे ......... कहा जाता है।
(ख) जिन चित्रों में भारतीय भूदृश्यों को अनूठा, अनछुआ दिखाया जाता था उनकी शैली को .............. कहा जाता है।

(ग) जिस चित्राशैली में भारत में रहने वाले यूरोपीयों के सामाजिक जीवन को दर्शाया जाता था उन्हें .............. कहा जाता है।
(घ) जिन चित्रों में ब्रिटिश साम्राज्यवादी इतिहास और उनकी विजय के दृश्य दिखाए जाते थे उन्हें ............... कहा जाता है।

Q2. बताएँ कि निम्नलिखित में से कौन-कौन सी विधाएँ और शैलियाँ अंग्रेजों के जरिए भारत में आईं:
(क) तैल चित्र 

(ख) लघुचित्र
(ग) आदमकद छायाचित्र 

(घ) परिप्रेक्ष्य विधा का प्रयोग
(च) भित्ति चित्र 

Q3. इस अध्याय में दिए गए किसी एक ऐसे चित्र का अपने शब्दों में वर्णन करे जिसमें दिखाया गया है कि अंग्रेज भारतीयों से ज्यादा ताकतवर थे। कलाकार ने यह बात किस तरह दिखाई है?

उत्तर: 

Q4. ख़र्रा चित्राकार और कुम्हार कलाकार कालीघाट क्यों आए? उन्होंने नए विषयों पर चित्र बनाना क्यों शुरू किया?

उत्तर: 

Q5. राजा रवि वर्मा के चित्रों को राष्ट्रवादी भावना वाले चित्र कैसे कहा जा सकता है?
आइए विचार करें |

उत्तर: 

Q6. भारत में ब्रिटिश इतिहास के चित्रों में साम्राज्यवादी विजेताओं के रवैये को
किस तरह दर्शाया जाता था?

उत्तर: 

Q7. आपके अनुसार कुछ कलाकार एक राष्ट्रीय कला शैली क्यों विकसित करना चाहते थे?

उत्तर: 

Q8. कुछ कलाकारों ने सस्ती कीमत वाले छपे हुए चित्र क्यों बनाए? इस तरह के चित्रों को देखने से लोगों के मस्तिष्क पर क्या असर पड़ते थे? 

उत्तर: 

 

Page 2 of 4

 

Chapter Contents: