Study Materials

NCERT Solutions for Class 7th Science

 

Page 1 of 3

Chapter 5. अम्ल, क्षार एवं लवण

अध्याय -समीक्षा

 

 

 

अध्याय-समीक्षा: 


  • दही, नींबू का रस, संतरे का रस और सिरके का स्वाद खट्टा होता है। इनको खट्टा करने वाला पदार्थ अम्ल होता है। 
  • ऐसे पदार्थ, जिनका स्वाद कड़वा होता है और जो स्पर्श करने पर साबुन जैसे लगते हैं, क्षारक कहलाते हैं। जैसे - खाने का सोड़ा, साबुन आदि।
  • अम्ल तथा क्षारक का पता लगाने वाले वस्तु को सूचक कहते हैं| 
  • लिटमस पत्र एक प्राकृतिक सूचक है, जो लाइकेन नामक पौधे से प्राप्त होता है।  
  • लिटमस पत्र दो प्रकार का होता है। (i) लाल लिटमस पत्र (ii) नीला लिटमस पत्र
  • कोई पदार्थ अम्लीय है अथवा क्षारकीय, इसका परीक्षण करने के लिए विशेष प्रकार के पदार्थों का उपयोग किया जाता है। ये पदार्थ सूचक कहलाते हैं। जैसे - लिटमस पत्र, हल्दी, गुडहल की पंखुडियाँ  आदि। 
  • सिरका में एसिटिक अम्ल पाया जाता है|
  • चींटी के डंक में फोर्मिक अम्ल पाया जाता है |
  • दही में लैक्टिक अम्ल पाया जाता है |
  • ऐसे विलयन, जो लाल अथवा नीले लिटमस पत्र के रंग को परिवर्तित नहीं करते, उदासीन विलयन कहलाते हैं। 
  • वह अभिक्रिया जिसमें अम्ल और क्षारक मिलकर एक दुसरे के प्रभाव को समाप्त कर देते है उदासीनीकरण कहलाता है। 
  • जब चुने के पानी में तनु सल्फ्यूरिक अम्ल मिलाया जाता है जिससे कैल्शियम सल्फाइड, जल और ऊष्मा निकलता है। 
  • वह अभिक्रिया जिसमें अम्ल और क्षारक मिलकर एक दुसरे के प्रभाव को समाप्त कर देते है उदासीनीकरण कहलाता है। 
  • उदासीकरण अभिक्रिया से एक नया पदार्थ उत्पन्न होता है जिसे लवण कहते है ।

 

Page 1 of 3

 

Chapter Contents: