Study Materials

NCERT Solutions for Class 6th Science

 

Page 3 of 3

Chapter 14. जल

अतिरिक्त प्रश्नोत्तर

 

 

 

अध्याय 14. जल 


1 अंक के प्रश्न: 

प्रश्न 1: समुद्री जल वाष्पन के दौरान उसका कौन सा भाग जलवाष्प अपने साथ वहन नहीं करता है ?

उत्तर: जलवाष्प अपने साथ लवणों को वहन नहीं करता है |

प्रश्न 2: वाष्पन के लिए आवश्यक तत्व क्या है ?

उत्तर: ऊष्मा |

प्रश्न 3: समुद्री जल के वाष्पन के लिए ऊष्मा कहाँ से प्राप्त होता है ?

उत्तर: सूर्य से |

प्रश्न 4: जलवाष्प क्या है ?

उत्तर: वाष्पीकृत जल को जलवाष्प कहते हैं |

प्रश्न 5: जल वाष्प वायु में कैसे प्रवेश करता है ?

उत्तर: जल वाष्प वायु में वाष्पन तथा वाष्पोत्सर्जन के प्रक्रमों द्वारा प्रवेश करता है |

प्रश्न 6: वाष्पन क्या है ?

उत्तर: वह प्रक्रिया जिसमें जल वाष्पीकृत होता है वाष्पन कहलाता है |

प्रश्न 7: वाष्पोत्सर्जन क्या है ?

उत्तर: पौधों की पत्तियों या सतहों से जल की हानि होने की प्रक्रिया को वाष्पोत्सर्जन कहते हैं |

प्रश्न 8: जल के स्रोतों का नाम लिखों |

उत्तर: तालाब, नदियाँ, झील, कुएँ और हैण्डपंप इत्यादि |

प्रश्न 9: पृथ्वी का कितना भाग जल से घिरा हुआ है ?

उत्तर: पृथ्वी का दो तिहाई भाग जल से घिरा है |

2 अंक के प्रश्न: 

प्रश्न 10: हम पानी का उपयोग किन-किन कार्यों के लिए करते हैं ?

उत्तर: हम पानी का उपयोग का उपयोग खाना पकाना, पीना, कपडे धोना, बर्तन साफ करना, सिंचाई और नहाना आदि कार्यों के लिए करते हैं |

प्रश्न 11: पृथ्वी का दो तिहाई भाग जल से घिरा है फिर भी पीने के लिए पानी की कमी है | कारण बताइये |

उत्तर: पृथ्वी के दो तिहाई जल में से अधिकांश भाग जल समुद्र एवं महासागर में पाया जाता है जो खरा होने के कारण पीने लायक नहीं होता है |

प्रश्न 12: जलचक्र क्या है ?

उत्तर: महासागरों तथा स्थलीय जल स्रोतों के बीच जल के चक्रण को जलचक्र कहते हैं |

3 अंक के प्रश्न: 

प्रश्न 13: जलचक्र का वर्णन करों |

उत्तर: महासागरों का जल सूर्य के ऊष्मा से वाष्पित होकर ऊपर उठती है और अधिक ऊंचाई पर जाकर ये जलवाष्प ठंडी हो जाती है और संघनित होकर जल की छोटी-छोटी बुँदे बनकर वर्षा के रूप में बरसती है | फिर ये जल छोटे-छोटे जल स्रोतों में इक्कठा हो जाता है और अधिकांश भाग नदियों से होकर फिर महासागर और समुद्रों में मिल जाता है | स्थलीय स्रोतों से भी जल जलवाष्प बनकर ऊपर उठता है और वर्षा के रूप में बरसता है इससे एक चक्र का निर्माण होता है जिसे जलचक्र कहते है |   

प्रश्न 14: पौधे जल का उपयोग कैसे करते हैं ?

उत्तर: सभी पौधों को वृद्धि के लिए जल की आवश्यकता होती है | पौधे इस जल की कुछ मात्रा का उपयोग अपना भोजन बनाने में करते हैं तथा कुछ मात्रा को अपने विभिन्न भागों में सुरक्षित रखते हैं | पौधे इस जल का शेष भाग वाष्पोत्सर्जन प्रक्रम द्वारा जलवाष्प के रूप में वायु में मुक्त कर देते हैं |

 

 

Page 3 of 3

 

Chapter Contents: