Study Materials

NCERT Solutions for Class 6th Science

 

Page 1 of 3

Chapter 11. प्रकाश-छायाएँ एवं परावर्तन

अध्याय समीक्षा

 

 

 

11. प्रकाश, छायायें एवं परावर्तन


अध्याय-समीक्षा:

अपारदर्शी वस्तु : वह वस्तु जो अपने से होकर प्रकाश को जाने नहीं देती अपारदर्शी वस्तु कहलाती है |

उदाहरण: दीवार, लकड़ी, पुस्तक, आदि |

पारदर्शी वस्तु : वह वस्तु जो अपने से होकर प्रकाश को जाने देती है उसे पारदर्शी वस्तु कहते है |

उदाहरण: शीशा, काँच, पानी आदि

पारभासी वस्तु: वह वस्तु जो प्रकाश के कुछ भाग को ही अपने से होकर गुजरने देती है, पारभासी वस्तु कहलाती है |

उदाहरण: तेल लगा कागज, पन्नी, पोलीथिन आदि |

छाया : जब प्रकाश के मार्ग में कोई वस्तु आ जाती है तो उससे छाया बनता है |

दीप्त पिंड या वस्तु : जो वस्तुएँ सूर्य की तरह स्वयं प्रकाश का उत्सर्जन करती हैं उन्हें दीप्त पिंड कहते है |

जैसे : सूर्य, टार्च, मोमबती और विद्युत बल्ब आदि |

परदा : वह वस्तु जिसपर छाया बनती है परदा कहलाता है |

दर्पण तथा परावर्तन

दर्पण : वह वस्तु जिसमें किसी वस्तु का प्रतिबिम्ब बनता है दर्पण कहलाता है |

दर्पण के प्रकार :

दर्पण दो प्रकार के होते है |

(1) समतल दर्पण : वह दर्पण जिसका परावर्तक पृष्ठ समतल होता है और यह वस्तु के समान और बराबर दुरी पर प्रतिबिम्ब बनाता है |

    उदाहरण : घर में चेहरा देखने वाला दर्पण, सैलून में प्रयोग होने वाला दर्पण आदि |

(2) गोलीय दर्पण वह दर्पण जिसका परावर्तक पृष्ठ वक्र अथवा गोलीय होता है |

    गोलीय दर्पण दो प्रकार का होता है |

    (i) अवतल दर्पण

    (ii) उत्तल दर्पण  

 

Page 1 of 3

 

Chapter Contents: