Study Materials

NCERT Solutions for Class 10th Geography

 

Page 2 of 3

Chapter chapter 3. जल संसाधन

अभ्यास

 

 

 

अभ्यास : 3 (जल संसाधन)


1. निम्नलिखित प्रशनों के उत्तर लगभग 30 शब्दों में दीजिए |

(i) व्याख्या करें कि जल कस प्रकार नवीकरण योग्य संसाधन है ?

उत्तर:- जल का नवीकरण प्राकृतिक रूप से जलचक्र द्वरा होता रहता है | हमें मिलाने वाला अलवणीय जल सतही , अपवाह तथा भू - जल स्रोतों से हासिल होता है जिसका निरंतर नवीकरण तथा पुनर्भरण जलीय चक्र के जारी होता रहता है | सूर्य की गर्मी से वाष्पीकरण की क्रिया द्वारा जलवाष्प संघनित होकर बादलों के र्रोप में एकत्रित हो जाते है | जो ठंडे पृथ्वी पर वर्षा का यह जल दोबारा नदी से होते हुए सागरों में पहुँचाता है और दोबारा जलावाष्प के रूप में संघनित होने लगता है | इस तरह जलचक्र लगातार गतिशील रहता है | 

(ii) जल दुर्लभता क्या है और इसके मुख्य कारण क्या है ?

उत्तर :- मूलभूत आवश्यकताओं की पूर्ति के लिए जल की कमी जल दुर्लभता कहलाती है | इसके प्रमुख कारण है - 

(क) समाज में जल का असमान वितरण |

(ख) अत्यधिक और निरंतर बढाती जनसंख्या |

(ग) उपलब्ध जल का अति - उपयोग |

(घ) जल प्रदूषण |

(iii) बहुउद्देशीय परियोजनाओं से होने वाले लाभ और हानियों के तुलना करें ? 

उत्तर :- लाभ :- (क) बाढ़ पर रोक लगाने में सहायक है |

(ख) बिजली उत्पादन में बढ़ोतरी होती है |

(ग) मछली पालन में सहायक है |

(घ) पर्यटन को बढ़ावा मिलाता है |

हानि :- (क) नदियो का बहाव बाधित होता है परिणामस्वरूप तलछटीय बहाव धीमा पड़ जाता है |

(ख) जलाशय की तली में अत्यधिक तलछट इकट्ठा हो जाता है | 

(ग) जल प्रदुषण जैसी कठिनाइयाँ पैदा होती है | 

(घ) जलाशयों के निर्माण से मैदान में उपसिथत वनस्पति व मिटटी , जल में डूबकर अपघटित हो जाती है | 

2. निम्नलिखित प्रश्नों के उत्तर लगभग 120 शब्दों में दीजिए ?

(i) राजस्थान के अर्ध - शुष्क क्षेत्रों में वर्षा जल संग्रहण किस प्रकार किया जाता है ? व्याख्या कीजिए ?

उत्तर :- राजस्थान के बीलानेर , फलोदी और बाड़मेर आदि जगहों पर पीने के पानी को इकट्ठा करने हेतु भूमिगत टैंक अथवा टंका प्रयोग किया जाता है | यह मुख्य घर या आँगन में बनाया जाता है | ये टैंक घर की ढलवाँ छतों के माध्यम से पाइप के जारी जुड़े होते है | वर्षा का जल इन पाइपों से होकर टैंक तक पहुँचाता है | पहली वर्षा के जल का संग्रह नहीं किया जाता बलिक इसे टैंक और पाइप आदि को साफ़ करने में उपयोग किया जाता है |

(ii) परंपरागत वर्षा जल संग्रहण की पद्धतियों को आधुनिक काल में अपना करा जल संरक्षण एवं भंडारण किस प्रकार किया जा रहा है |

उत्तर :- वर्षा जल संग्रहण पद्धति , वर्षा के जल को पीने के लिए एकत्रित करने की एक विधि है | ज्यादा आबादी वाले नगरों , जहाँ पीने योग्य पानी की कमी होती है , ये पद्धतीन अपनाई जा सकती है इसका प्रारूप इस प्रकार है -

(क)पानी को साफ़ करनें के लिए एक तीन - स्तरीय छनन प्रक्रिया का इस्तेमाल किया जा सकता है 

(ख) पाइप की मदद से जल को टैंक तक ले जाया जाता है |

(ग) कुँए के जल से पानी का पुनर्भरण किया जा सकता है |

(घ) हौज अथवा टैंक के आलावा पानी को कुएँ आदि तक ले जाया जा सकता है |

 

Page 2 of 3

 

Chapter Contents: